बिज़नेस

उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक की उपलब्धियों का साल, बनाए नए कीर्तिमान

लखनऊ 12 मई 2023 : उज्जीवन स्मॉल फाईनेंस बैंक लिमिटेड ने 31 मार्च, 2023 को समाप्त हुए साल और तिमाही के लिए अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा की।

श्री इत्तिरा डेविस, एमडी एवं सीईओ, उज्जीवन स्मॉल फाईनेंस बैंक ने कहा, ‘‘वित्तवर्ष 23 की शुरुआत उत्साहवर्धक रही और इसका समापन उससे भी ज्यादा अच्छा हुआ क्योंकि वित्तवर्ष 2023 की चौथी तिमाही में बैंक के इतिहास में कई नए कीर्तिमान बने, नए मानक स्थापित हुए, और विभिन्न क्षेत्रों में सफलता प्राप्त हुई। हमने ऑल-राउंड बेहतरीन प्रदर्शन किया और अपने सभी मानकों को पूरा किया। एक तरफ हमने ऑल-राउंड उच्च डिस्बर्समेंट के साथ वृद्धि के नए मानक स्थापित किए, तो दूसरी तरफ एस्सेट क्वालिटी ने सतत रूप से सुधार प्रदर्शित किया। हमारे जमा ने एस्सेट वृद्धि को पीछे छोड़ते हुए 25,000 करोड़ रु. का आँकड़ा पार कर लिया। सतत कलेक्शंस, कम स्लिपेज और मजबूत रिकवरी के साथ इस साल क्रेडिट लागत मामूली रही। साल के अंत तक स्लिपेज सामान्य हो गए, लेकिन रिकवरी कुछ समय तक चलने की उम्मीद है। हमारे लगातार मजबूत कलेक्शन वित्तवर्ष 2024 में भी सब-100 बीपीएस की क्रेडिट लागत सुनिश्चित करेंगे। इस तिमाही में 31 नई शाखाओं के साथ शाखाओं के विस्तार में तेजी आई। यह तेजी नए वित्तवर्ष में भी लगभग 100 शाखाओं के साथ जारी रहेगी। डिजिटल पक्ष में अनेक अन्य उपलब्धियों के बीच सबसे उल्लेखनीय उपलब्धि हमारे वीवीवी आधारित मोबाईल बैंकिंग ऐप – ‘‘हैलो उज्जीवन’’ का लॉन्च है, जो टेक्नॉलॉजी की कम समझ रखने वाले ग्राहकों के लिए है। इस ऐप को उद्योग में अनेक सराहनाएं मिल चुकी हैं, जिनमें ‘एजिस ग्राहम बेल अवार्ड्स 2022 फॉर इनोवेशन इन कंज़्यूमर टेक’ शामिल है। इस ऐप के 1.3 लाख से ज्यादा डाउनलोड हो चुके हैं। हम अपनी भौतिक शाखाओं के अलावा अपनी डिजिटल क्षमताओं का भी उपयोग करते रहेंगे।

अपने प्रमोटर के साथ विलय के मामले में हमने माननीय एनसीएलटी, बैंगलुरू के साथ अपना आवेदन दर्ज किया है और हम अवलोकनों/संचार का इंतजार कर रहे हैं। इस विषय में हम अंशधारकों को सूचित रखेंगे।

वित्तवर्ष 2024 में हम वित्तवर्ष 2023 का आधार मजबूत करते रहेंगे। वृद्धि में सुरक्षित उत्पादों के योगदान से संबंधित क्षेत्रों में सुधार होगा और हमारी रणनीति/क्रियान्वयन को स्पष्ट आकार मिलेगा। हमें अपने व्यापार की वृद्धि (सकल लोन बुक की वृद्धि 25 प्रतिशत से ज्यादा) और लाभ (लगभग 22 प्रतिशत आरओई) की उम्मीद है। हम जनसमूह के एक अग्रणी बैंक बनने के लिए प्रतिबद्ध हैं और भारत में डिजिटल समावेशन लाने में अपना योगदान देते रहेंगे। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button